टेस्टिंग के दौरान दिखी Renault Kiger (HBC), साल के अंत में हो सकती है लॉन्च

भारत में रेनो काइगर (Renault Kiger) इस साल के अंत तक लॉन्च हो सकती है और इस कार में व आगामी निसान मैग्नाइट (Nissan Magnite) में कई समानताएं हो सकती हैं

फरवरी में आयोजित हुए ऑटो एक्सपो 2020 में अगर सबसे ज्यादा किसी कार का इंतजार किया जा रहा था, तो वह कॉम्पैक्ट एसयूवी रेनो एचबीसी (Renault HBC) भी थी, लेकिन किसी कारण वश इसका डेब्यू नहीं हो पाया। अब खबर है कि कंपनी इस कार को इस साल के अंत तक लॉन्च कर सकती है और हाल ही में इसकी कुछ तस्वीरें टेस्टिंग के दौरान सामने आई हैं।

हालांकि कवर से ढ़के होने के कारण इस एसयूवी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है, जैसा कि पिछली कई रिपोर्ट में स्पष्ट हो चुका है कि कंपनी ने इस कार को इंटरनल यूज के लिए रेनो एचबीसी (Renault HBC) का कोडनाम दिया है, जबकि इसका प्रोडक्शन एडिशन संभवतः रेनो काइगर (Renault Kiger) के नाम जाना जाएगा।

रिपोर्ट के मुताबिक रेनो रेनो काइगर (Renault Kiger) को इस साल के अंत में निसान मैग्नाइट (Nissan Magnite) की शुरुआत के बाद लॉन्च किया जा सकता है। कार के डिजाइन एलिमेंट की बात करें तो इसे क्लैमशेल बोनट की बनावट के साथ शॉर्प फ्रंट फेसिया मिला है, जबकि बीच में प्रोजेक्टर यूनिट के साथ हेडलैम्प क्लस्टर, ऊपर एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइट्स और रेनो बैज है।

फ्रंट बम्पर में सेंट्रल एयर इनलेट्स और फॉग लैंप्स के लिए हॉरिजॉन्टल हाउसिंग होगी, जबकि फेस के लिए रेनो क्विड (Renault Kwid) या रेनो ट्राइबर (Renault Triber) से कुछ एलिमेंट लिए जा सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसे CMF-A+ आर्किटेक्चर पर डेवलप किया जाएगा। ऐसे में अगर इसमें ट्राइबर के कोई संकेत होंगे तो इस 5-सीटर एसयूवी की कीमत 5.4 लाख रुपए से लेकर 9 लाख (एक्स-शोरूम) के बीच हो सकती है।

हालांकि हम उम्मीद करते हैं कि निसान मैग्नाइट (Nissan Magnite) की तुलना में ये रेनो एसयूवी थोड़ा ज्यादा प्रीमियम होगी। प्रोटोटाइप में लम्बे पिलर, झुके हुए रियर ग्लास, शिल्ड बूट, एलईडी टेल लैंप, रूफ रेल्स और स्पोर्टी बेल्टलाइन आदि दिखाई देते हैं, जबकि टॉप-एंड वेरिएंट में 15 या 16 इंच के अलॉय व्हील्स का इस्तेमाल किया जा सकता है।

कार के इंटीरियर के लिए रेनो ट्राइबर (Renault Triber) से कई बिट्स और पार्ट्स लिए जा सकते हैं और फीचर्स में यह संभवतः एप्पल कारप्ले और एंड्रॉइड ऑटो कनेक्टिविटी के साथ टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, माउंटेड कंट्रोल के साथ मल्टी-फंक्शनल स्टीयरिंग व्हील, वॉयस रिकग्निशन, ऑल-डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, क्लाइमेट कंट्रोल, इंजन पुश बटन स्टार्ट/स्टॉप और चार एयरबैग से लैस होगी।

पावर देने के लिए कार में टर्बो और नान-टर्बो के साथ 1.0-लीटर के तीन-सिलेंडर पेट्रोल इंजन का इस्तेमाल किया जाएगा। टर्बो एडिशन लगभग 95 एचपी की पावर डेवलप कर सकता है, जबकि नेचुरल एस्पिरेटेड गैसोलीन यूनिट 75 एचपी के आसपास हो सकता है। इंजन 5-स्पीड मैनुअल और 5-स्पीड एएमटी के साथ जोड़ा जाएगा जबकि सीवीटी को बाद के स्टेज में पेश किया जा सकता है।